गेहूं में कल्ले बढ़ाने की दवा?

भारत का गेहूं की फसल उत्पादन में एक प्रमुख स्थान है। पंजाब उत्तर प्रदेश और हरियाणा जैसे राज्य गेहूं की फसल उत्पादन में मुख्य राज्य हैं। गेहूं की गेहूं की अधिक उत्पादन एवं पैदावार प्राप्त करने के लिए किसानों को कई प्रकार की बातों पर विशेष ध्यान देना आवश्यक है।

गेहूं की अच्छी एवं बंपर पैदावार उत्पादन के लिए किसानों को गेहूं की उन्नत किस्मों चुनाव करना एवं वैज्ञानिक विधि से गेहूं की बुआई करते हैं, तो इसके माध्यम से गेहूं के उत्पादन को बढ़ाया जा सकता है। गेहूं की फसल से किसानों पर बेहद अनुसंधान हो रहा है। साथ ही उन्नत एवं वैज्ञानिकों द्वारा तैयार की गई नई किस्मों से किसान गेहूं की अच्छी पैदावार प्राप्त कर रहे हैं। आज हम हम किसान भाइयों को गेहूं की नई एवं उन्नत क़िस्मों गेहूं बिजाई से संबंधित जानकारी देने जा रहे हैं इसके लिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ें

गन्ने की पर्ची देखें

download

गेहूं की अधिक एवं बंपर पैदावार के लिए निम्न बातों पर आवश्यक ध्यान दें

  • गेहूं की बुआई करने के साथ-साथ किसानों को अच्छे एवं उन्नत किस्म का चुनाव करना भी आवश्यक होता है
  • गेहूं की अच्छी एवं बंपर पैदावार प्राप्त करने के लिए फसल की समय-समय पर देखभाल करना चाहिए
  • गेहूं की अधिक पैदावार प्राप्त करने के लिए किसान सही एवं उन्नत क़िस्मों के बीच का चुनाव करें
  • किसानों को अधिक पैदावार लेने के लिए शुद्ध प्रमाणित बीज उगाना चाहिए।
  • गेहूं की बिजाई से पहले खेत की सही एवं गहरी जुताई आवश्यक करें।
  • गेहूं की फसल में अधिक कल्लों की संख्या बढ़ाने के लिए आवश्यक है कि गेहूं का जमाव कम से कम 85% हो

गेहूं में अधिक कल्ले बढ़ाने के लिए क्या करें

किसानों की अधिक समस्या अपनी फसल से अच्छी एवं अधिक पैदावार प्रताप की होती है क्योंकि यदि फसल से अधिक पैदावार नहीं हो पाती है। तो इससे किसान अधिक किंचित हो जाते हैं। जिसके कारण किसानों को फसल से कोई लाभ नहीं मिल पाता है। और इस समय गेहूं की बुवाई के साथ-साथ गेहूं की फसल से अधिक पैदावार किस प्रकार से प्राप्त की जा सकती है इसके लिए आपको गेहूं के पौधों में अधिक कल्लों की संख्या बढ़ाने का कार्य करना चाहिए

गेहूं की फसल में अधिक कल्लों कि संख्या को बढ़ाने के लिए। बताया गया है कि गेहूं फसल की 45 दिन की अवस्था में फुटाव होने पर 500 ग्राम जिंक सल्फेट 21% और 2.5 किग्रा  यूरिया को 100 लीटर पानी में मिश्रण करके गेहूं की फसल पर स्प्रे करें। इसकी लागत ₹30 है। इसलिए हर एक किसान को यह कार्य आवश्यक करना चाहिए। जिसके साथ ही उन्होंने कहा है कि साथ एक महा उपरांत ही यह स्प्रे गेहूं की फसल पर पुनः करें

Leave a Comment