गेहूं रवि सीजन की सबसे सर्वाधिक बोए जाने वाली फसल है जिसको धान की कटाई के बाद इसकी वुबाई की जाती है 

जिसके लिए किसानों को अच्छे एवं उन्नत क़िस्मों की जरूरत होती आज हम ऐसी उन्नत किस्म के बारे में बात करेंगे 

8 November 2023

written By caneup.in

गेहूं की यह किस्म बीज भंडार एवं बाजारों में वर्ष 2019 में आई थी और इसकी बिजाई किसान 25 अक्टूबर से 25 नवंबर के बीच कर सकते हैं

8 November 2023

written By caneup.in

करण नरेंद्र

इस किस्म तीन से चार सिंचाई एवं पैदावार प्रति हेक्टेयर से 82.1 कुंतल तक पैदावार होती है। 

8 November 2023

written By caneup.in

करण नरेंद्र

करण वंदना गेहूं की खास बात यह है कि इसमें पीला रतवा और ब्लास्ट जैसी बीमारियां लगने की संभावना बहुत कम होती है। 

8 November 2023

written By caneup.in

करन वंदना

गेहूं की इस किस्म को सर्वाधिक कश्मीर हिमाचल और उत्तराखंड जैसे इलाकों में उगाई जाती है इसकी बुवाई का समय 5 नवंबर से 25 नवंबर तक का सही होता है और इसकी पैदावार प्रति एक्ट्रेस 57 डॉट 5 से 79.60 क्विंटल तक होती है 

8 November 2023

written By caneup.in

पूसा यशस्वी

गेहूं की इस किस्म को सर्वाधिक कश्मीर हिमाचल और उत्तराखंड जैसे इलाकों में उगाई जाती है इसकी बुवाई का समय 5 नवंबर से 25 नवंबर तक का सही होता है और इसकी पैदावार प्रति एक्ट्रेस 57 डॉट 5 से 79.60 क्विंटल तक होती है 

8 November 2023

written By caneup.in

ये किस्म 2021 में बाजार में आई थी इसकी खेती के लिए उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड और पश्चिम बंगाल जैसे राज्य अच्छे माने जाते हैं 

8 November 2023

written By caneup.in

करण श्रिया

करण श्रिया गेहूं को तैयार होने में 115 से 120 दिन लगते हैं एवं इसकी पैदावार पड़ती हेक्टर 55 कुंतल की होती है 

8 November 2023

written By caneup.in

डीडीडब्ल्यू 47

इस गेहूं की पैदावार लगभग 74 क्विंटल तक की होती है 

8 November 2023

written By caneup.in